Wheat Grass health benefits

Wheat Grass – nature की बनाई हुई हर चीज अनमोल है, इस दुनिया में पाया जाने वाला प्रत्येक तत्व ओषधिय गुणों से परिपूर्ण है लेकिन यह गुण हम तब ही पा सकते है,जब उसका सही तरीके से प्रयोग किया जाये !

इसी तरह गेहू का जवारा एक एसी ही गुणकारी ओषध है, जो अपने अनमोल गुणों के कारण कई रोगों को दूर करता है!

आयुर्वेद शास्त्रों में इसे संजीवनी बूटी भी कहा गया है, क्युकि यह एक एसी ओषधि है जो अनेक रोगों से रक्षा करती है | जिनमे से कुछ निम्न है-

  • blood Disease
  • रक्त की कमी
  • high BP
  • अस्थमा
  • दातो का हिलना
  • Skin disease
  • पाचन सम्बन्धी रोग
  • शिग्र पतन
  • कान के रोग
  • Thyroid
  • Bronchitis
  • Kidney Disease
  • Synopsis
  • Cold
Wheat Grass health benefits

गेहू के जवारा का मुख्य होने का कारण यह है, की इसमें अधिक मात्रा में खनिज, विटामिन, एंजाइम पाए जाते है, जो शरीर में विभिन्न तत्वों के होने वाली असंतुलन को दूर कर रोगों से बचाव करते है|

benefits of गेहू के जवारा

गेहू के जवारा वजन घटाने में –

Wheat Grass health benefits

गेहू के जवारे में पाए जाने वाले तत्व human body में hormonal imbalance को normal करते है,जिसके कारण body के सभी system अच्छे से काम करते है, hormonal के balance होने पर मेटाबोलिक एक्टिविटी increase हो जाती है जिससे fat deposition नही होता है और वजन कम होता है !

गेहू के जवारा तनाव को कम करने में –

गेहू के जवारा का रस प्रयोग करने से इसमें उपस्थित तत्व body में होने वाले एक्टिविटी को संतुलित करते है, जिससे cardio system और respiratory system सही तरीके से काम करते है और brain में proper supply होने से तनाव कम होता है!

गेहू के जवारा मुख की दुर्गंध में –

Wheat Grass health benefits

इसमें antibacterial और एंटीमाइक्रोबियल्स गुण होते है, गेहूं के जवारे के रस से कुल्ला करने पर मुख की दुर्गंध, मसूड़ों से रक्त और दर्द में बहुत लाभ मिलता है!

गेहू के जवारा constipation में –

वर्तमान में प्रत्येक प्राणी constipation, acidity, जैसी पेट की समस्या से ग्रसित है इसके निवारण के लिए यह एक बहुत ही अनमोल ओषधि है इसमें पाया जाने वाला fiber कब्ज को दूर करने में सहायता करता है!

गेहूं का जवारा का रस शरीर की मेटाबोलिक एक्टिविटी को बढ़ा देता है, जिससे मल त्यागने की क्रिया नियमित  हो जाती है, मल त्यागने की क्रिया को नियमित कर कब्ज से राहत दिलाता है और साथ ही rectal bleeding  को भी रोकता है!

इसमें alkaline mineral होते है, जो कि कब्ज, दस्त और अल्सर को रोकते हैं इसमें मैग्नीशियम की मात्रा भी अधिक होती है जिससे कब्ज की समस्या ठीक हो जाती हैं!

गेहू के जवारा blood pressur regulation में –

यह RBC को काफी हद तक बड़ा देता है, जिससे एनिमा की समस्या कुछ ही दिनों में खत्म हो जाती है, साथ ही यह BP को भी normal करता है इसमें पाया जाने वाला क्लोरोफिल high BP को कंट्रोल करता है, artery  को स्ट्रांग बनाने में मदद करता है! ऑक्सीजन की अधिक मात्रा के कारण यह ब्लड वेसल्स की दीवारों से कोलेस्ट्रॉल को कम करता है जिसके कारण heart diseases से छुटकारा मिलता है!

गेहू के जवारा sun burn में –

Wheat Grass health benefits

Long time तक धुप में रहने पर स्किन जल जाती है, कभी-कभी यह स्किन कैंसर का कारण भी बन जाता है इस तरह की कंडीशन में गेहूं का जवारा बेस्ट ओषधि है गेहूं के जवारे का पाउडर और थोडा पानी को आपस में मिलाकर लेप बनाये इसे लगाएं, 10 मिनट तक रहने दे नॉरमल पानी से धो ले, इसे सप्ताह में दो बार प्रयोग करें!

गेहू के जवारा inflammation में –

गेहूं के जवारे में उपस्थित कुछ मुख्य तत्वों के कारण यह inflammation को कम करने में मदद करता है ulcerate colitis के पेशेंट द्वारा इसका प्रयोग करने से पेशेंट को काफी हद तक राहत मिलती है! और साथ ही यह आंतरिक रक्त स्त्राव को भी रोकता है|

Wheat Grass health benefits

गेहूं के जवारे के नुकसान –

इसका अधिक use करने से कभी-कभी vomiting, headache हो सकता है, इसका उपयोग शुरुआत में कम मात्र में ही करना चाहिए! प्रारंभ में अधिक मात्र में use करने से body उसको absorb नही कर पाती है जिससे diarrhoea हो जाता है!

गेहूं के जवारे की तासीर ठंडी होने के कारण यह कभी-कभी सर्दी कर देता है तथा इसे शाम के समय में नहीं लेना चाहिए!

गेहूं के जवारे के use करने का सही समय –

इसका उपयोग morning में करना बेस्ट होता है शाम में इसका use कभी नही करना चाहिए !

गेहूं के जवारे के use करने का तरीका –

गेहूं के जवारे को पिस कर उसका रस use में लेना चाहिए, गेहूं के जवारे को ऐसे ही use में नही ले सकते उसका सिर्फ रस ही use किआ जा सकता है और उसे सुखा कर उसका चूर्ण बना कर use किया जा सकता है,

ताजा रस use में लेने से उसका फायदा भी अधिक होता है, इसलिए हो सकते हो उसका ताजा रस निकल कर ही उपयोग करे!

रस निकालकर शुरुआत में दो चम्मच प्रयोग करना चाहिए, फिर अपने पाचन के आधार पर इसकी dose बढ़ा सकते है,

For bay online Wheat Grass juice click hare

For more information click hare, plz share if you like this with your friend and relatives

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *