यदि होम्योपैथिक दवाइया लेते है तो इन बातो का रखे खास ध्यान

होम्योपैथी दवाईया लेते समय डॉक्टर तो हमें खाना सम्बंधी सतर्कता बरतने को कहता ही है लेकिन  साथ ही हमें कुछ अन्य सावधानिय बरतनी भी बहोत जरुरी है

होम्योपैथी चिकित्सा

चिकित्सकीय बाजार लोगो का ध्यान तेजी होम्योपैथी की तरफ बढ़ रहा है लोगों को आज कल एलोपैथी चिकित्सका पद्धति से ज्यादा भरोसा होम्योपैथी पर होने लगा है वे होम्योपैथी चिकित्सा कराने को ही सही  मानते हैं। लेकिन आपको बता दें कि होम्योपैथी दवा खाने के नियम, कायदे सब अलग हैं। यदि मरीज उन नियमों का पालन नहीं करता है,  तो उसके ठीक होने की संभावना काफी कम होती है तथा दवायों का असर भी नहि होता है, वास्तव में होम्यापैथी एक तरह से नियमों को मानने वाली चिकित्सकीय पद्धति है। क्योंकि यह पद्धति, प्राकृतिक पद्धति से जुड़ी हुई है। होम्योपैथी दवाइयों का उपयोग करते समय किन किन बातो का ध्यान रखना चाहिए| आइए जानते हैं-

नशे से बनाये दुरी 

होम्योपैथी दवाइया लेने से पहले या बाद में अल्कोहल या नशीले पदार्थो का उपयोग नहीं करना चाहिए,  नशे में मोजूद स्ट्रोंग इम्प्लीमेंट दावा के असर को कम कम देते है, इस लिए होम्योपैथी दवाइयों को उपयोग करते समय नशे से दुरी बनाये रखनी चाहिए

अन्य दवाओं से न करें मिक्स

होम्योपैथी दवाइयों को एलोपीथीक ( English medicines ) या आयुर्वेदिक दवाइयों के पास नहीं रखना चाहिए, इससे दवाइयों पर असर पड़ता है

इमली और खट्टा खाने से परहेज

होम्योपैथी दवाइयों को लेने के बाद खट्टी चीजे नहीं खानी चाहिए, खट्टी चीजो का उपयोग दवाइयों के असर को कम कर देता है| होम्योपैथी दवा खाने के बाद खट्टी चीजें खाने से अनेक तरह के side effect (उपद्रव्य) देखने को मिलते है

खाने से परहेज

अगर आप होम्योपैथी दवा ले रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आप क्या खा रहे हैं। क्योंकि होम्योपैथी चिकित्सकीय पद्धति के अंतर्गत आप लहसुन, अदरक और प्याज जैसी चीजों को नहीं खा सकते हैं

यदि आप इन चीजों का सेवन करते हैं तो आपके लिए बेहतर होगा कि एक बार अपने डाक्टर से संपर्क कर लें। उनसे अपनी फूड चार्ट बनवा लें और किन चीजों को खाने से परहेज करना है, Disclaimer

अगर आप हृदय संबंधी बीमारी ( heart diseases ) की मरीज हैं  और ब्लड प्रेशर है, डायबिटीज है या फिर एपिलेप्सी है हो सकता है कि आपके डाक्टर आपको होम्योपैथी दवाओं के साथ साथ एलोपैथी दवा लेने का परमर्स दे|

अन्य रोगी के समान दवाईयो का उपयोग न करे

यदि आपको किसी अन्य व्यक्ति की तरह ही कोई बीमारी है तो उस रोगी की दवाइयो को आपको नहीं लेने चाहिए क्योकि दवाई का निर्धारण बीमारी के साथ-साथ व्यक्ति की स्वास्थ्य और व्यवहार सम्बंधी अन्य समस्याओ पर भी केन्द्रित होता है|

होम्योपैथी दावाइया खाने से पहले जीभ अच्छे से साफ कर देनी चाहिए या कुल्ला करना चाहिए|

खुले में न रखें

होम्योपैथी दवा की शीशी कभी भी खुली जगह पर न रखें। होम्योपैथी दवाईया कभी खुले में नहीं रखनी चाहिए, इन दवाइयों को हमेसा ठन्डे स्थानों पर ही रखना चाइए| और दवाइ को खाने के बाद डिब्बी के ढक्कन को ठीक से बंद करना चाहिए| होम्योपैथी दवाइयों को धुप या गर्म स्थान पर रखने से उनका असर ख़त्म हो जाता है.

हाथ में न लें

होम्योपैथी दवाइयों को खाने के लिए कभी हथेलियों पर नहीं निकलना चाहिए| हथेलियो पर निकलने से उनमें मौजूद स्पिरिट ख़त्म हो जाता है, जिससे दवाई का असर ख़त्म हो जाता है

30 मिनट तक कुछ न खाएं

होम्योपैथी दवा खाने के 30 मिनट बाद या खाने के 30 मिनत ट पहले कुछ न खाएं और न ही कुछ पीना चाहिए । खाना खाने के तुरंत बाद या पहले दवाई का सेवन करने से दवाइयों का असर कम हो जाता है जिससे बीमारी जल्द ठीक नहीं होती है |

Read more: hormonal balansing tips, healthy diet, hare care tips, skin care tips, blood pressure controling trick, human body systems, digestive system, respiratory system,

 

Related Post

One thought on “यदि होम्योपैथिक दवाइया लेते है तो इन बातो का रखे खास ध्यान!”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *